Thursday, November 29, 2012

ग़ज़लगंगा.dg: काटने लगता है अपना ही मकां शाम के बाद

यूं  तेरी यादों की कश्ती है रवां शाम के बाद.
जैसे वीरान जज़ीरे में धुआं शाम के बाद.

चंद लम्हे जो  गुजारे थे तेरे साथ कभी
ढूंढ़ता हूं उन्हीं लम्हों के निशां शाम के बाद.

एक-एक करके हरेक जख्म उभर आता है
दिल के जज़्बात भी होते हैं जवां शाम के बाद.

Read more: http://www.gazalganga.in/2012/11/blog-post_9373.html#ixzz2Db9P0l4m
ग़ज़लगंगा.dg: काटने लगता है अपना ही मकां शाम के बाद:

'via Blog this'

Monday, November 26, 2012

इमाम हुसैन: सच्चाई जिनके दम से आज तक क़ायम है Imam husain, Shah e Karbala





(इमाम हुसैन र. को खि़राजे अक़ीदत का नज़राना सभी लोग पेश करते हैं। इस ब्लॉग के सभी  सदस्यों की तरफ़ से यह कलाम 10 मुहर्रम की निस्बत से ‘मुशायरा‘ ब्लॉग पर पेश किया जा रहा है।)

दोनों जहां मे ख़ास है अज़्मत हुसैन की

ज़हरा के घर में चांद जो चमका हुसैन का
वो परतौ ए रसूल था चेहरा हुसैन का
लेने लगे बलाएं फिर अर्ज़ो-समा सभी
दोनों जहां के लब पे था चर्चा हुसैन का

ज़हरा के लाडले हैं इब्ने अली हुसैन
2 days ago


Saturday, November 24, 2012

कर्बला : इमाम हुसैन की शहादत को श्रद्धांजलि Imam Hasain & Moharram


इंदौर की अर्चना जी का शुक्रिया जिन्होंने इस पोस्ट को बेहतरीन अंदाज़ मैं पढ़ा.. आप सब भी सुने.
Moharram 2010 Layout (1)
इमाम हुसैन की शहादत को नमन करते हुए हमारी ओर से श्रद्धांजलि…इस लेख़ के ज़रिये मैंने एक कोशिश की है  यह बताने की के धर्म कोई भी हो जब यह राजशाही , बादशाहों, नेताओं का ग़ुलाम बन जाता है तोज़ुल्म और नफरत फैलाता    है और जब यह अपनी असल शक्ल मैं रहता है तो, पैग़ाम ए मुहब्बत "अमन का पैग़ाम " बन जाता है.  …..एस0 एम0 मासूम 
'हिन्दी ब्लॉगर्स फ़ोरम इंटरनेश्नल' पर 

Friday, November 23, 2012

सज़ा ए मौत Kasab ko phansi


हिन्दुस्तान में सज़ा ए मौत बाक़ी रहे या इसे ख़त्म कर दिया जाए ? Kasab:Hang Till Death

  • Thursday, November 22, 2012
  •  by 
  • DR. ANWER JAMAL
  • इस पर एक लंबे अर्से से विचार चल रहा है। 21 नवंबर 2012 को कसाब को फांसी दिए जाने के बाद एक बार फिर यह मुददा उठाया जा सकता है। उसे फांसी दिए जाने से 2 दिन पहले ही संयुक्त महासभा कि मानवाधिकार समिति दुनिया भर में सज़ा ए मौत को ख़त्म करने का प्रस्ताव पास किया था। दुनिया के 140 देश सज़ा ए मौत ख़त्म कर चुके हैं और अब सिर्फ़ 58 देश ही यह सज़ा...
    हरेक समस्या का हल मौजूद है लेकिन हमें समस्या के मूल तक पहुंचना होगा। शरीफ़ लोग जी सकें इसलिए ख़ून के प्यासे इंसाननुमा दरिंदों को मरना ही चाहिए।

    Tuesday, November 20, 2012

    ग़ज़लगंगा.dg: उठते-उठते उठता है तूफ़ान कोई

    ग़ज़लगंगा.dg: हैवानों की बस्ती में इंसान कोई.
    भूले भटके आ पहुंचा नादान कोई.

    कहां गए वो कव्वे जो बतलाते थे
    घर में आनेवाला है मेहमान कोई.

    जाने क्यों जाना-पहचाना लगता है
    जब भी मिलता है मुझको अनजान कोई.

    इस तर्ह बेचैन है अपना मन जैसे
    दरिया की तह में उठता तूफ़ान कोई.

    अपनी जेब टटोल के देखो क्या कुछ है
    घटा हुआ है फिर घर में सामान कोई.

    धीरे-धीरे गर्मी सर पे चढ़ती है
    उठते-उठते उठता है तूफ़ान कोई.

    कितना मुश्किल होता है पूरा करना
    काम अगर मिल जाता है आसान कोई.

    सबसे कटकर जीना कोई जीना है
    मिल-जुल कर रहने में है अपमान कोई?

    उसके आगे मर्ज़ी किसकी चलती है
    किस्मत से भी होता है बलवान कोई?

    --देवेंद्र गौतम

    उठते-उठते उठता है तूफ़ान कोई:

    'via Blog this'

    आखिर हमारी फ्रीडम आफ स्पीच आज कितनी सुरक्षित है ?

    'जिज्ञासा' ब्लॉग पर 
    जस्टिस मार्कंडेय काटजू के फेसबुक वॉल से
    Letter to Maharashtra CM on arrest of the young girl for her facebook status.
    To,
    The Chief Minister
    Maharashtra
    Dear Chief Minister,
    I am forwarding an email I have received stating that a woman in Maharashtra has been arrested for protesting on Facebook against the shut down in Mumbai on the occasion of the death of Mr. Bal Thackeray. It is alleged that she has been arrested for
    allegedly hurting religious sentiments.

    To my mind it is absurd to say that protesting against a bandh hurts religious sentiments. Under Article 19(1)(a) of our Constitution freedom of speech is a guaranteed fundamental right . We are living in a democracy, not a fascist dictatorship. In fact this arrest itself appears to be a criminal act since under sections 341 and 342 it is a crime to wrongfully arrest or wrongfully confine someone who has committed no crime.

    Hence if the facts reported are correct, I request you to immediately order the suspension, arrest, chargesheeting and criminal prosecution of the police personnel (however high they may be) who ordered as well as implemented the arrest of that woman, failing which I will deem it that you as Chief Minister are unable to run the state in a democratic manner as envisaged by the Constitution to which you have taken oath, and then the legal consequences will follow

    Regards
    Justice Katju
    (Chairman, Press Council of India, and former Judge, Supreme Court of India)
     
    भारत में अभिव्यक्ति की आजादी कितनी सुरक्षित है इसका एक नमूना देखिये. बाला साहब ठाकरे के निधन पर एक फेसबुक यूजर Shaheen Dhada ने फेसबुक स्टेटस लिखा और उसकी दोस्त Renu Srinivasan ने उसे शेयर कर दिया. शिवसैनिक भड़क उठे और लड़की को जबरन पुलिस स्टेशन ले आए. साथ ही शाहीन के चाचा के अस्पताल पर धावा बोल दिया और हास्पिटल को बुरी तरह से बर्बाद कर दिया. शाहीन और रेनू को सारी रात पुलिस स्टेशन में बैठना पड़ा. 
    सुबह कोर्ट में पेशी हुई और दोनो को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. बाद में दबाव पड़ने पर 15,000 रूपये की जमानत पर दोनों को छो़ड़ दिया गया.

    लड़की और उनके घर वाले बुरी तरह से घबराए हुए हैं. शाहीन तो इस कदर डरी हुई है कि उसने कभी किसी सोशल नेटवर्किग प्लेटफार्म पर नहीं जाने की कसम खा ली है. शाहीन के अंकल के हास्पिटल को 10 लाख से भी ज्यादा का नुकसान हुआ है.

    अब आप नीचे शाहीन के लिखे स्टेटस को पढ़िये और बताइये कि उसकी गलती क्या है. आखिर हमारी फ्रीडम आफ स्पीच आज कितनी सुरक्षित है?
    पूरा लेख यहाँ पढ़ें-


    Monday, November 19, 2012

    देखिये अल्लाह ने कद्दू में क्या तासीर रखी है ?


    और निस्संदेह यूनुस भी रसूलो में से था(139) याद करो, जब वह भरी नौका की ओर भाग निकला, (140)फिर पर्ची डालने में शामिल हुआ और उसमें मात खाई (141) फिर उसे मछली ने निगल लिया और वह निन्दनीय दशा में ग्रस्त हो गया था। (142) अब यदि वह तसबीह करनेवाला न होता (143) तो उसी के भीतर उस दिन तक पड़ा रह जाता, जबकि लोग उठाए जाएँगे। (144) अन्ततः हमने उसे इस दशा में कि वह निढ़ाल था, साफ़ मैदान में डाल दिया। (145) हमने उसपर बेलदार वृक्ष उगाया था (146)कुर'आन की तफसीर में बताया गया है कि हज़रत यूनुस अलैहिस-सलाम पर उगने वाला यह बेलदार पेड़ कद्दू का था। उस वक़्त हज़रत यूनुस अलैहिस-सलाम की जो शारीरिक और मानसिक दशा थी, उसके लिए कद्दू सबसे ज़्यादा  मुनासिब था। देखिये अल्लाह ने कद्दू में क्या तासीर रखी है ?

    Sunday, November 18, 2012

    आदरणीय चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ जी की पोस्ट पर हिंदूवादी भाइयों का ऐतराज़ कितना जायज़ है ?


    आदरणीय चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ जी की पोस्ट पर हिंदूवादी भाइयों का ऐतराज़ कितना जायज़ है  ?

    देखिये यह पोस्ट :

    चन्द्र भूषण मिश्र ‘ग़ाफ़िल’ का ऐसे लोगों के लिए यह सन्देश है:
    आभार रविकर जी आपको इस प्रविष्टि के लिए! इन कट्टरपंथी रूढ़िवादी हिन्दुओं को इस पोस्ट 'गैर-मुसलमानों के साथ संबंधों के लिए इस्लाम के अनुसार दिशानिर्देश' में ऐसी कौन सी गाली दिख गयी जो कि भड़क उठे चर्चामंच पर लगाने से यह मेरी समझ में नहीं आ रहा और इनको क्या समझ आये कि हिन्दुस्तान में सारे पर्वों में चाहे वह हिन्दुओं के हों या अन्य धर्मावलम्बियों के कैसे हम समभाव से सहभागिता करते हैं! इन्हें भारत के गांवों में आकर देखना चाहिए कि हम किस तरह होली, दीवाली, और ईद एक साथ मनाते हैं! कितने आदर से हम अपने गांव के बुज़ुर्ग जुम्मन को जुम्मन चाचा कहते हैं ये कुटिलआलसी और छद्मरूपधारी छुद्रमना धर्मांधी क्या जाने?...रविकर भाई! हम चाहते हैं कि तथाकथित विवादित पोस्ट जो इन सभी को गाली लगी उसका लिंक आप अपनी चर्चामंच पर देकर लोगों की राय लें कि इसमें कौन सी गाली है जिसके नाते सभी चर्चाकारों पर मूढ़मति होने का आरोप ये विद्वान लोग लगा रहे हैं...ब्लॉग जगत में ऐसे भड़काऊ तथा कट्टरपंथियों की खुलकर भर्त्सना होनी ही चाहिए...उस पोस्ट का लिंक हमने अपनी टिप्पणी में ऊपर दे दिया है।
    लिंक:
    http://besurm.blogspot.in/2012/11/blog-post_17.html?showComment=1353234734212#c5629979070439672175

    Saturday, November 17, 2012

    समलैंगिकता हमारे देश के लिए कोई अनूठी अवधारणा नहीं है-Neerendra Nagar

    एक चिंतन

    गे सेक्स अननैचरल है तो ब्रह्मचर्य क्या है?

     नीरेंद्र नागर

    भारतीय यौन दर्शन की दो महत्वपूर्ण विरासतों – कामसूत्र और खजुराहो की मूर्तियां इस बात की गवाह हैं कि समलैंगिकता हमारे देश के लिए कोई अनूठी अवधारणा नहीं है। ऊपर की तस्वीरें देखें। पहले वाली तस्वीर ओरल सेक्स दिखा रही है और दूसरी जानवरों के साथ सेक्स। दोनों मूर्तियां भारत के मंदिरों से हैं।

    Friday, November 16, 2012

    Mary Corrigan ने गंजेपन से मुक्ति कैसे पाई ?

    Mary Corrigan ने गंजेपन से मुक्ति कैसे पाई  ?
    देखें,  तिब्बे नबवी ब्लॉग  पर-

     

    Thursday, November 8, 2012

    बकरी का दूध गाय भैंस के दूध से बेहतर है -Tibbe Nabvi Blog

    बकरी का दूध गाय भैंस के दूध से बेहतर है
    Free range goats

    Here are 5 reasons goat milk is better than cow milk-

    1. Goat’s milk is less allergenic.
    2. Goat’s milk is naturally homogenized.
    3. Goat’s milk is easier to digest.
    4. Goat’s milk rarely causes lactose intolerance.
    5. Goat’s milk matches up to the human body better than cow’s milk.

    लिंक पर जाकर अपना ज्ञान बढायें -

    Tuesday, November 6, 2012

    प्यारी माँ: नारी

    प्यारी माँ: नारी
    by



  • Minakshi Pant

  • in





  • धैर्य है स्फूर्ति है ,
    ममता की मूर्ति है ,

    ‘ब्लॉग की ख़बरें‘

    1- क्या है ब्लॉगर्स मीट वीकली ?
    http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_3391.html

    2- किसने की हैं कौन करेगा उनसे मोहब्बत हम से ज़्यादा ?
    http://mushayera.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

    3- क्या है प्यार का आवश्यक उपकरण ?
    http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

    4- एक दूसरे के अपराध क्षमा करो
    http://biblesmysteries.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

    5- इंसान का परिचय Introduction
    http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/introduction.html

    6- दर्शनों की रचना से पूर्व मूल धर्म
    http://kuranved.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

    7- क्या भारतीय नारी भी नहीं भटक गई है ?
    http://lucknowbloggersassociation.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    8- बेवफा छोड़ के जाता है चला जा
    http://kunwarkusumesh.blogspot.com/2011/07/blog-post_11.html#comments

    9- इस्लाम और पर्यावरण: एक झलक
    http://www.hamarianjuman.com/2011/07/blog-post.html

    10- दुआ की ताक़त The spiritual power
    http://ruhani-amaliyat.blogspot.com/2011/01/spiritual-power.html

    11- रमेश कुमार जैन ने ‘सिरफिरा‘ दिया
    http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    12- शकुन्तला प्रेस कार्यालय के बाहर लगा एक फ्लेक्स बोर्ड-4
    http://shakuntalapress.blogspot.com/

    13- वाह री, भारत सरकार, क्या खूब कहा
    http://bhadas.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

    14- वैश्विक हुआ फिरंगी संस्कृति का रोग ! (HIV Test ...)
    http://sb.samwaad.com/2011/07/blog-post_16.html

    15- अमीर मंदिर गरीब देश
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

    16- मोबाइल : प्यार का आवश्यक उपकरण Mobile
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/mobile.html

    17- आपकी तस्वीर कहीं पॉर्न वेबसाइट पे तो नहीं है?
    http://bezaban.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

    18- खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम अब तक लागू नहीं
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

    19- दुनिया में सबसे ज्यादा शादियाँ करने वाला कौन है?
    इसका श्रेय भारत के ज़ियोना चाना को जाता है। मिजोरम के निवासी 64 वर्षीय जियोना चाना का परिवार 180 सदस्यों का है। उन्होंने 39 शादियाँ की हैं। इनके 94 बच्चे हैं, 14 पुत्रवधुएं और 33 नाती हैं। जियोना के पिता ने 50 शादियाँ की थीं। उसके घर में 100 से ज्यादा कमरे है और हर रोज भोजन में 30 मुर्गियाँ खर्च होती हैं।
    http://gyaankosh.blogspot.com/2011/07/blog-post_14.html

    20 - ब्लॉगर्स मीट अब ब्लॉग पर आयोजित हुआ करेगी और वह भी वीकली Bloggers' Meet Weekly
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/bloggers-meet-weekly.html

    21- इस से पहले कि बेवफा हो जाएँ
    http://www.sahityapremisangh.com/2011/07/blog-post_3678.html

    22- इसलाम में आर्थिक व्यवस्था के मार्गदर्शक सिद्धांत
    http://islamdharma.blogspot.com/2012/07/islamic-economics.html

    23- मेरी बिटिया सदफ स्कूल क्लास प्रतिनिधि का चुनाव जीती
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_2208.html

    24- कुरआन का चमत्कार

    25- ब्रह्मा अब्राहम इब्राहीम एक हैं?

    26- कमबख़्तो ! सीता माता को इल्ज़ाम न दो Greatness of Sita Mata

    27- राम को इल्ज़ाम न दो Part 1

    28- लक्ष्मण को इल्ज़ाम न दो

    29- हरेक समस्या का अंत, तुरंत

    30-
    अपने पड़ोसी को तकलीफ़ न दो

    साहित्य की ताज़ा जानकारी

    1- युद्ध -लुईगी पिरांदेलो (मां-बेटे और बाप के ज़बर्दस्त तूफ़ानी जज़्बात का अनोखा बयान)
    http://pyarimaan.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    2- रमेश कुमार जैन ने ‘सिरफिरा‘ दिया
    http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    3- आतंकवादी कौन और इल्ज़ाम किस पर ? Taliban
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/taliban.html

    4- तनाव दूर करने की बजाय बढ़ाती है शराब
    http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    5- जानिए श्री कृष्ण जी के धर्म को अपने बुद्धि-विवेक से Krishna consciousness
    http://vedquran.blogspot.com/2011/07/krishna-consciousness.html

    6- समलैंगिकता और बलात्कार की घटनाएं क्यों अंजाम देते हैं जवान ? Rape
    http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/rape.html

    7- क्या भारतीय नारी भी नहीं भटक गई है ?
    http://lucknowbloggersassociation.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    8- ख़ून बहाना जायज़ ही नहीं है किसी मुसलमान के लिए No Voilence
    http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/no-voilence.html

    9- धर्म को उसके लक्षणों से पहचान कर अपनाइये कल्याण के लिए
    http://charchashalimanch.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

    10- बाइबिल के रहस्य- क्षमा कीजिए शांति पाइए
    http://biblesmysteries.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

    11- विश्व शांति और मानव एकता के लिए हज़रत अली की ज़िंदगी सचमुच एक आदर्श है
    http://dharmiksahity.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

    12- दर्शनों की रचना से पूर्व मूल धर्म
    http://kuranved.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

    13- ‘इस्लामी आतंकवाद‘ एक ग़लत शब्द है Terrorism or Peace, What is Islam
    http://commentsgarden.blogspot.com/2011/07/terrorism-or-peace-what-is-islam.html

    14- The real mission of Christ ईसा मसीह का मिशन क्या था ? और उसे किसने आकर पूरा किया ? - Anwer Jamal
    http://kuranved.blogspot.com/2010/10/real-mission-of-christ-anwer-jamal.html

    15- अल्लाह के विशेष गुण जो किसी सृष्टि में नहीं है.
    http://quranse.blogspot.com/2011/06/blog-post_12.html

    16- लघु नज्में ... ड़ा श्याम गुप्त...
    http://mushayera.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

    17- आपको कौन लिंक कर रहा है ?, जानने के तरीके यह हैं
    http://techaggregator.blogspot.com/

    18- आदम-मनु हैं एक, बाप अपना भी कह ले -रविकर फैजाबादी

    19-मां बाप हैं अल्लाह की बख्शी हुई नेमत

    20- मौत कहते हैं जिसे वो ज़िन्दगी का होश है Death is life

    21- कल रात उसने सारे ख़तों को जला दिया -ग़ज़ल Gazal

    22- मोम का सा मिज़ाज है मेरा / मुझ पे इल्ज़ाम है कि पत्थर हूँ -'Anwer'

    23- दिल तो है लँगूर का

    24- लब पे आती है दुआ बन के तमन्ना मेरी - Allama Iqbal

    25- विवाद -एक लघुकथा डा. अनवर जमाल की क़लम से Dispute (Short story)

    26- शीशा हमें तो आपको पत्थर कहा गया (ग़ज़ल)