Friday, July 6, 2012

ब्लू फिल्म देखते हुए सारी रात करते रहे रेप

प्यारी माँ  ब्लॉग पर 
पहले लड़कियों को उनकी हिफाज़त की गर्ज़ से घर में रखा जाता था और जब वे घर से बाहर जाती थीं तो उनकी हिफाज़त के लिए घर का कोई न कोई सदस्य भी उनके साथ जाता था . आज लड़कियों और औरतों के लिए खतरे पहले से ज़्यादा बढ़ गए हैं और उनकी हिफ़ाज़त  का परम्परागत कवच भी आज उन्हें मयस्सर  नहीं है. अपनी लड़कियों को हमेशा हिफ़ाज़त मुहैय्या कराएं. दरिन्दे जान पहचान के दायरे में भी होते हैं।. देखिये एक ताज़ा घटना और सबक़  हासिल कीजिये-

ब्लू फिल्म देखते हुए दो नाबालिगों के साथ 5 लोग सारी रात करते रहे रेप


अपनी लड़कियों को हमेशा हिफ़ाज़त मुहैय्या कराएं -  

10 comments:

दीपक बाबा said...

आदरणीय डॉ साहिब,
आज आपके ब्लॉग "ब्लॉग की खबरें" पर इस टीप के माध्यम से एक गुजारिश करता हूँ :

LIKE कालम के अंतर्गत :
१. धर्म के नाम पर 'सेक्स' का खेल
२. संभोग रहस्य
३. वासना का ज्वार Dirty Sex
चमकने वाली पोस्टों को यहाँ से हटा दें, यहीं से नहीं वरन अपने ब्लॉग में से भी ये पोस्ट डिलीट कर दें.

कई लोगों/पाठकों को इन पोस्टों पर आपति है... में आपसे ये उम्मीद रखता हूँ, कि ब्लॉग्गिंग में स्वस्थ परम्परा को कायम रखेंगे.

मैंने एक विचार व्यक्त किया है कोई तर्क नहीं दिया, बाकि आपकी मर्ज़ी, और ये भी है कि आप जैसे प्रकांड विद्वान के आगे मेरे ज्यादा तर्क नहीं चल पायेंगे.

सादर
दीपक बाबा

दीपक बाबा said...
This comment has been removed by the author.
दीपक बाबा said...

आदरनीय डॉ साहेब,
वैसे तो आपके कई ब्लॉग है, पर आपके ब्लॉग “ब्लॉग की खबरें” पर इसी पोस्ट में एक टीप द्वारा में अपनी बात रखना चाहता हूँ,

LIKE कॉलम के अन्तरगत कुछ पोस्ट जो कई महीनो से चमक रही हैं जैसेकि

धर्म के नाम पर ‘सेक्स’ का खेल
सम्भोग रहस्य

यहाँ पर इस पोस्टों के साथ संबद्ध चित्र को देख कर ऐसा लगता है मानो इन ब्लोग्गरों ने कुछ इस टाइप का लेखन किया हो. पर ऐसा कुछ भीं नहीं है. अत: आपसे ये सादर अनुरोध है की उक्त पोस्टों को अपने ब्लॉग से डिलीट कर देवें.

इस विषय में आपसे पहले भी टीप द्वारा सूचित किया है, पर आपने बजाये कुछ कदम उठाने के मेरी टीप ही डिलीट कर दी. एक अनुभवी और विद्वान ब्लोग्गोर है, अत: अपेक्षा करता हूँ कि तुरंत ऐसी पोस्ट डिलीट कर आप स्वस्थ ब्लॉग्गिंग को मज़बूत करेंगे.

सादर
दीपक बाबा

DR. ANWER JAMAL said...

@ आदरणीय दीपक जी ! आपकी कोई टिप्पणी डिलीट नहीं की गई है. आपकी अन्य टिप्पणियां पुरानी पोस्ट 'धर्म के नाम पर सेक्स का खेल' पर हैं.
हम आपकी भावना का सम्मान करते हैं.
भाई, 'धर्म के नाम पर सेक्स का खेल' नामक रिपोतार्ज को तो अभी ४ दिन भी नहीं हुए हैं तब आपने इसे 'लाइक' कालम में महीनों से चमकते हुए कैसे देख लिया ?
इस रिपोतार्ज में जिसका फोटो है, उसका स्टेटमेंट भी बिना किसी संपादन के दिया गया है.
'सम्भोग रहस्य' में भी वंदना जी का फ़ोटो इसलिए है क्योंकि पूरा रिपोतार्ज उनकी महाप्रसिद्ध कविता पर ही आधारित है.
हिंदी ब्लॉगजगत में कई ब्लॉग हैं जो पोस्ट या टिप्पणी का चर्चा करते हुए पोस्ट और टिप्पणी के लेखक का चित्र भी साथ में देते हैं.
अतः पोस्ट या टिप्पणी का चर्चा करते हुए पोस्ट और टिप्पणी के लेखक का चित्र साथ में देना किसी भी तरह स्वस्थ ब्लॉगिंग के खिलाफ नहीं है.

'संभोग रहस्य' वंदना जी की कविता का विरोध करने वालों के निराकरण के लिए लिखी गई एक पोस्ट है. यह पोस्ट उनके नज़रिए के समर्थन में लिखी गई है. जब तक इंटरनेट पर वंदना जी को अश्लील गालियाँ देने वालों के पोस्ट्स रहेंगी तब तक इस पोस्ट का बने रहना ज़रूरी है.

पोस्ट्स डिलीट करने की बात आप उन पोस्ट्स पर जा कर ज़रूर कहें जिन्होंने ब्लागर डोट कॉम और फेसबुक पर वंदना जी को गालियाँ दी हैं. उस समय वन्दना जी को ज़रूरत भी थी कि कोई उन्हें गालियाँ देने वालों को रोके.
तब दर्जनों पोस्ट और कमेंट्स के ज़रिये हमने उन्हें रोका. हमने उन्हें टोका.
तब आप कहाँ थे भाई साहब ?
क्या आप भी कुछ कहने से पहले ब्लॉगर का नाम देखते हैं ?

चलिए, अब देख लेते हैं कि आपको वंदना जी से कितनी हमदर्दी है ?
वन्दना जी को अश्लील गालियाँ देने वाले हिंदी ब्लागर्स को आप अब क्या कहते हैं ?, अब देख लेते हैं.
अगर नापने के पैमाने एक हो जाएँ तो आपको या किसी को कोई पोस्ट डिलीट करने के लिए कभी कहना नहीं पड़ेगा क्योंकि तब हमें यह सब लिखने के ज़रूरत ही नहीं रहेगी.
धन्यवाद.

रचना said...

i hv always asked people not to use my photo without my permission


it is also blog ethics not to use any ones photo without permission

please delete my photo immediately from your blog

i hv not given any permission to use my photo on your blog

ravikar has already removed the same

i want a speedy action in this regard

please inform me

all photos can be removed while pasting the comments

why should u use my photo

DR. ANWER JAMAL said...

@ रचना जी ! यह फोटो गूगल सर्च से लिया गया है. आपको ग़लतफ़हमी हो रही है. इस पोस्ट में आपका फ़ोटो हमने लगाया ही नहीं है.

रचना said...

i am talking about the last post and my photo on the side bar

DR. ANWER JAMAL said...

... उस पोस्ट पर तो आप बात कर ही रही हैं. उसी बात को यहाँ उठाने से क्या फायदा ?, जबकि यहाँ आपका फोटो ही नहीं है.

Er. Shilpa Mehta said...

क्या पवित्र कुरान आपको इजाज़त देती है इस तरह से 'एक महिला के चित्र के साथ इस तरह के शब्दों वाली पोस्ट' से अपने ब्लॉग की ओर ट्राफिक बढायें इस तरह से ? क्या आप मुसलमान होने का फ़र्ज़ अदा कर रहे हैं ? क्या आप क़यामत के दिन अल्लाहताला को अपनी इस हरकत का उचित उत्तर दे पायेंगे ?

DR. ANWER JAMAL said...

‘इस तरह के शब्दों‘ से आपका आशय स्पष्ट नहीं हो पा रहा है।
किसी शब्द पर ऐतराज़ हो तो आप बताएं। हम उसे हटा देंगे।
फ़ोटो मात्र प्रतीकात्मक है।

‘ब्लॉग की ख़बरें‘

1- क्या है ब्लॉगर्स मीट वीकली ?
http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_3391.html

2- किसने की हैं कौन करेगा उनसे मोहब्बत हम से ज़्यादा ?
http://mushayera.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

3- क्या है प्यार का आवश्यक उपकरण ?
http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

4- एक दूसरे के अपराध क्षमा करो
http://biblesmysteries.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

5- इंसान का परिचय Introduction
http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/introduction.html

6- दर्शनों की रचना से पूर्व मूल धर्म
http://kuranved.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

7- क्या भारतीय नारी भी नहीं भटक गई है ?
http://lucknowbloggersassociation.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

8- बेवफा छोड़ के जाता है चला जा
http://kunwarkusumesh.blogspot.com/2011/07/blog-post_11.html#comments

9- इस्लाम और पर्यावरण: एक झलक
http://www.hamarianjuman.com/2011/07/blog-post.html

10- दुआ की ताक़त The spiritual power
http://ruhani-amaliyat.blogspot.com/2011/01/spiritual-power.html

11- रमेश कुमार जैन ने ‘सिरफिरा‘ दिया
http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

12- शकुन्तला प्रेस कार्यालय के बाहर लगा एक फ्लेक्स बोर्ड-4
http://shakuntalapress.blogspot.com/

13- वाह री, भारत सरकार, क्या खूब कहा
http://bhadas.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

14- वैश्विक हुआ फिरंगी संस्कृति का रोग ! (HIV Test ...)
http://sb.samwaad.com/2011/07/blog-post_16.html

15- अमीर मंदिर गरीब देश
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

16- मोबाइल : प्यार का आवश्यक उपकरण Mobile
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/mobile.html

17- आपकी तस्वीर कहीं पॉर्न वेबसाइट पे तो नहीं है?
http://bezaban.blogspot.com/2011/07/blog-post_18.html

18- खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम अब तक लागू नहीं
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_19.html

19- दुनिया में सबसे ज्यादा शादियाँ करने वाला कौन है?
इसका श्रेय भारत के ज़ियोना चाना को जाता है। मिजोरम के निवासी 64 वर्षीय जियोना चाना का परिवार 180 सदस्यों का है। उन्होंने 39 शादियाँ की हैं। इनके 94 बच्चे हैं, 14 पुत्रवधुएं और 33 नाती हैं। जियोना के पिता ने 50 शादियाँ की थीं। उसके घर में 100 से ज्यादा कमरे है और हर रोज भोजन में 30 मुर्गियाँ खर्च होती हैं।
http://gyaankosh.blogspot.com/2011/07/blog-post_14.html

20 - ब्लॉगर्स मीट अब ब्लॉग पर आयोजित हुआ करेगी और वह भी वीकली Bloggers' Meet Weekly
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/bloggers-meet-weekly.html

21- इस से पहले कि बेवफा हो जाएँ
http://www.sahityapremisangh.com/2011/07/blog-post_3678.html

22- इसलाम में आर्थिक व्यवस्था के मार्गदर्शक सिद्धांत
http://islamdharma.blogspot.com/2012/07/islamic-economics.html

23- मेरी बिटिया सदफ स्कूल क्लास प्रतिनिधि का चुनाव जीती
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_2208.html

24- कुरआन का चमत्कार

25- ब्रह्मा अब्राहम इब्राहीम एक हैं?

26- कमबख़्तो ! सीता माता को इल्ज़ाम न दो Greatness of Sita Mata

27- राम को इल्ज़ाम न दो Part 1

28- लक्ष्मण को इल्ज़ाम न दो

29- हरेक समस्या का अंत, तुरंत

30-
अपने पड़ोसी को तकलीफ़ न दो

साहित्य की ताज़ा जानकारी

1- युद्ध -लुईगी पिरांदेलो (मां-बेटे और बाप के ज़बर्दस्त तूफ़ानी जज़्बात का अनोखा बयान)
http://pyarimaan.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

2- रमेश कुमार जैन ने ‘सिरफिरा‘ दिया
http://blogkikhabren.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

3- आतंकवादी कौन और इल्ज़ाम किस पर ? Taliban
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/taliban.html

4- तनाव दूर करने की बजाय बढ़ाती है शराब
http://hbfint.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

5- जानिए श्री कृष्ण जी के धर्म को अपने बुद्धि-विवेक से Krishna consciousness
http://vedquran.blogspot.com/2011/07/krishna-consciousness.html

6- समलैंगिकता और बलात्कार की घटनाएं क्यों अंजाम देते हैं जवान ? Rape
http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/rape.html

7- क्या भारतीय नारी भी नहीं भटक गई है ?
http://lucknowbloggersassociation.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

8- ख़ून बहाना जायज़ ही नहीं है किसी मुसलमान के लिए No Voilence
http://ahsaskiparten.blogspot.com/2011/07/no-voilence.html

9- धर्म को उसके लक्षणों से पहचान कर अपनाइये कल्याण के लिए
http://charchashalimanch.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

10- बाइबिल के रहस्य- क्षमा कीजिए शांति पाइए
http://biblesmysteries.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

11- विश्व शांति और मानव एकता के लिए हज़रत अली की ज़िंदगी सचमुच एक आदर्श है
http://dharmiksahity.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

12- दर्शनों की रचना से पूर्व मूल धर्म
http://kuranved.blogspot.com/2011/07/blog-post.html

13- ‘इस्लामी आतंकवाद‘ एक ग़लत शब्द है Terrorism or Peace, What is Islam
http://commentsgarden.blogspot.com/2011/07/terrorism-or-peace-what-is-islam.html

14- The real mission of Christ ईसा मसीह का मिशन क्या था ? और उसे किसने आकर पूरा किया ? - Anwer Jamal
http://kuranved.blogspot.com/2010/10/real-mission-of-christ-anwer-jamal.html

15- अल्लाह के विशेष गुण जो किसी सृष्टि में नहीं है.
http://quranse.blogspot.com/2011/06/blog-post_12.html

16- लघु नज्में ... ड़ा श्याम गुप्त...
http://mushayera.blogspot.com/2011/07/blog-post_17.html

17- आपको कौन लिंक कर रहा है ?, जानने के तरीके यह हैं
http://techaggregator.blogspot.com/

18- आदम-मनु हैं एक, बाप अपना भी कह ले -रविकर फैजाबादी

19-मां बाप हैं अल्लाह की बख्शी हुई नेमत

20- मौत कहते हैं जिसे वो ज़िन्दगी का होश है Death is life

21- कल रात उसने सारे ख़तों को जला दिया -ग़ज़ल Gazal

22- मोम का सा मिज़ाज है मेरा / मुझ पे इल्ज़ाम है कि पत्थर हूँ -'Anwer'

23- दिल तो है लँगूर का

24- लब पे आती है दुआ बन के तमन्ना मेरी - Allama Iqbal

25- विवाद -एक लघुकथा डा. अनवर जमाल की क़लम से Dispute (Short story)

26- शीशा हमें तो आपको पत्थर कहा गया (ग़ज़ल)